पूर्व विधायक उमेश अग्रवाल

विधायक राकेश जांघू के गांव में जनसंख्या से ज्यादा हैं मतदाता

एनसीआर गुरुग्राम

-पूर्व विधायक उमेश अग्रवाल बोले, जनगणना में धांधली का यह नायाब नमूना
-जनगणना में खुलकर की गई है धांधली, हो निष्पक्ष जांच
-गांव में मतदाताओं की संख्या 6640 और जनगणना में गांव की जनंसख्या मात्र 5875 है


गुरुग्राम। नगर निगम गुरुग्राम ने निगम चुनाव के लिए कराई गई जन गणना में जमकर हुई धांधली का इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि बादशाहपुर के विधायक राकेश जांघू के गांव दौलताबाद में कुल जनसंख्या से अधिक मतदाता शामिल हैं। गुरुग्राम के पूर्व विधायक एवं आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता उमेश अग्रवाल ने इसे नायाब नमूना बताते हुए इसकी निष्पक्ष जांच की मांग की है।


पूर्व विधायक उमेश अग्रवाल ने कहा कि अधिकारियों की सहमति से सर्वे करने वाली एजेंसी ने जो आंकड़े तैयार किये हैं, उन्हें किसी भी तरीके से जायज नहीं ठहराया जा सकता। उमेश अग्रवाल के मुताबिक निगम की जनगणना में छह बूथ वाले दौलताबाद गांव में मतदाताओं की संख्या 6640 है, जबकि जनगणना में इसकी जनसंख्या मात्र 5875 दिखाई गई है। इस हिसाब से विधायक के गांव में जनसंख्या वोटरों की संख्या गांव की कुल आबादी से भी 765 कम है। श्री अग्रवाल ने धांधली के साथ की गई इस जनगणना पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह कैसे संभव हो सकता है कि किसी क्षेत्र की आबादी भी उसके वोटरों की संख्या से कम है।


विधायक सुधीर सिंगला के क्षेत्र में भी गड़बड़ी  
जिस रिहायशी कॉलोनी बर्फ खाना (सिविल लाइन्स) में गुरुग्राम के वर्तमान विधायक सुधीर सिंगला रहते हैं, वहां भी मतदाताओं के मुकाबले जनसंख्या में भारी घालमेल किया गया है। इस कालोनी के वोटरों की संख्या 1367 के मुकाबले जनसंख्या मात्र 1033 दर्शाई गई है।

इसी तरह से न्यू पालम विहार फेस-2 में वोटरों की संख्या 2343 है, जबकि जनसंख्या 390 दर्शाई गई है। यह भी बड़ी लापरवाही है। पांच बूथ वाले भीमगढ़ खेड़ी फेस एक व तीन में वोटरों की संख्या 5293 है और यहां की जनसंख्या 4674 दर्शाई गई है।

वार्ड-12 के धनवापुर गांव के वोटरों की संख्या 2560 है, जबकि जनसंख्या 2426 दिखाई गई है। वार्ड-16 के विजय पार्क के वोटरों की तादाद 862 है तथा जनसंख्या 632 दिखाई गई है। शहर का पॉश एरिया कहे जाने वाले सेक्टर-15 पार्ट एक में वोटरों की संख्या 2443 व जनसंख्या 2424 दिखाई गई है। सेक्टर 15 वाले ही वार्ड-19 के जलवायु विहार में भी मतदाता 1883 हैं और जनसंख्या 1418 बतायी गई है।

तीन बूथ वाले वार्ड-26 के उप्पल साउथएंड में वोटरों की संख्या 2483 के मुकाबले जनसंख्या 733 का होना धांधली का एक और सबूत है। शहर के सबसे छोटे रिहायशी सेक्टर में शामिल एक बूथ वाले सेक्टर-41 में वोटर तो 1463 हैं तथा जनसंख्या मात्र 510 है।


यह भी पढ़े – विटामिन डी के सेवन से कम होता है इस जानलेवा बीमारी का खतरा

हमारे इंस्टाग्राम पेज से जुड़े – क्लिक करे।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.