पटौदी चौक के पास महिला से दुष्कर्म

विवाहिता को दहेज़ के लिए मारपीट कर घर से निकाला

तावडू

तावडू, 22 जून (आदर्श) : एक विवाहिता एवं बच्ची की मॉ को अल्टो कार व 1 लाख रूपया नकद की मांग पूरी न करने पर बच्ची की मॉ विवाहिता को ससुराल वालों ने मारपीट कर घर से बाहर निकाले जाने का मामला प्रकाश में आया है। जानकारी अनुसार पीडि़ता ने थाने प्राथमिकी दर्ज करा बयान दिया है कि उसके परिजनों ने उसकी  शादी 17 मार्च 2013 को रज्जाक पुत्र शेरा उर्फ शेर मोहम्मद निवासी जाट कालौनी गुरूद्वारा के निकट खेरतल मंडी तहसील किशनगढ़ जिला अलवर के साथ मुस्लिम रीति रिवाज से की थी। मेरी शादी में दहेज के तौर पर मेरे पिता ने एक मोटर साइकिल 1 किलो चांदी के जेवरात व 3 तौला सोने के जेवरात के अतिरिक्त वाशिंग मशीन कूलर, फ्रीज,सोफासैट सहित 21 हजार रूपये नकद व भारी संख्या में दहेज का सामान दिया। जैसे ही मैं ससुराल पहुंची तो मेरा ससुराल पक्ष मेरे पिता द्वारा दिया गया दान दहेज से खुश नहीं थे जिन्होंने कम दहेज लाने का उलाहना ताना मारना प्रारम्भ कर दिया और कहने लगे कि तूने हमारी सारी इज्जत मिट्टी में मिला दी। इसी दौरान उलाहना ताने के चलते पीडि़ता ने एक बच्ची को जन्म दिया लेकिन दहेज के लोभियों की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही थी जिस को लेकर वो पीडि़ता के साथ आए दिन मारपीट भी करने लगे। हद तो तब हो गई कि 10 अक्तूबर 2018 को  पति रज्जाक पुत्र शेरा उर्फ शेर मोहम्मद ससुर शेर मोहम्मद उर्फ शेरा पुत्र सुबराती मुमताज पुत्री शेर मोहम्मद निवासियान खेरतल ने दहेज की मांग पूरी न होने के कारण मेरे सोने चांदी के जेवरात छीन कर व मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। उस के पश्चात मैं अपने मायके आ गई। उस के पश्चात  12 नवम्बर को  मेरा पति ससुर व ननद मुझे लेने आए तो मेरे परिवार वालों ने मुझे इन के साथ भेज दिया। जैसे ही हमारी गाड़ी लगभग 6 बजे खेड़ला नूंह के निकट पहुचे ही थे कि मेरे ससुर ने कहा कि हमारी दहेज की मांग पूरी कर के लाई या नहीं तो मैने कहा कि मेरे माता पिता गरीब हैं बस इतना सुनना था कि इन्होंने वहीं पर मेरे साथ मारपीट शुरू कर दी और कहा कि हम तुझे जान से मार देगें और पति ने मुझे मौके पर ही तलाक दे दिया शौर शराबा सुन कर मौके पर ही काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए जिन में एक व्यक्ति मेरे मामा के गांव आकेड़ा निवासी  अहसान पुत्र खलील जिस ने मुझे इन आरोपितों से बचाया जो जाते जाते मुझे जान से मारने की धमकी दे रहे थे। उस के पश्चात मैने किसी के फोन से अपने मायके फोन किया तो मौके पर मेरा भाई पहुंच गया। पुलिस ने पीडि़ता के बयान पर पति ससुर व ननद के विरूद्ध विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत मामला दर्ज कर कार्रवाई प्रारम्भ कर दी है।

यह भी पढ़ें -विवाहिता को दहेज़ के लिए मारपीट कर घर से निकाला

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.