वैष्णों माता के दर्शन कर लौटी छात्रा ने यात्रा को यादगार बताया

एनसीआर गुरुग्राम

कटरा से तीर्थयात्रा संपन्न कर लौटे यात्रियों ने सुनाए संस्मरण, यात्रा को यादगार व ऐतिहासिक बताया।   

गुरुग्राम। माता वैष्णों देवी में आस्था और विधायक उमेश अग्रवाल का कुशल प्रबंधन एवं सुरक्षा व्यवस्था में विश्वास ही कहा जाएगा कि टीन ऐज की लड़की भी बिना अपने अभिभावकों के अकेले माता वैष्णों देवी का दर्शन कर गुरुग्राम वापस लौट आई। विजय पार्क के लार्ड जीसस स्कूल की नौवीं कक्षा की छात्रा सेक्टर निवासी बॉबी भसीन 14 वर्षीय बेटी ऐंजल भसीन ने बृहस्पतिवार को वैष्णों देवी यात्रा से लौटकर गुरुग्राम पहुंची। यात्रा पूरी होने की चेहरे पर खुशी व उत्साह के साथ बताया कि पूरी यात्रा के दौरान कहीं भी किसी तरह की असुविधा या परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। ऐंजल का कहना है कि वह जिस बस में गुरुग्राम से कटरा लिए गई थी उस बस में उनके सेक्टर के लोग व उसकी फ्रेंड भी थीं। यात्रा के दौरान उसे हर समय पारिवारिक वातावरण मिला। बृहस्पतिवार को गुरुग्राम लौटे सभी यात्रियों ने वैष्णों माता की दर्शन यात्रा को यादगार व ऐतिहासिक बताया।  

इसी प्रकार से बलदेवनगर की मेवानी शर्मा, राजनगर की नीलम और अजुर्नगर के देवा ने यात्रा के संस्मरण सुनाते हुए कहा कि विधायक उमेश अग्रवाल ने गुरुग्राम से लेकर कटरा तक इतनी अच्छी व्यवस्था कर रखी है कि उन्हें कहीं कोई परेशानी नहीं हुई। कटरा में रहने-खाने के साथ ही वहां का मनमोहक धार्मिक वातावरण ने पूरी यात्रा को यादगार बना दिया। देवा कहते हैं कि यात्रा पर उनके साथ गए बच्चों ने भी पूरा एन्जॉय किया। उन्होंने कहा, कटरा में बेहतर स्थान पर रूकने, सामुहिक भोजन से लेकर पूजा-पाठ संबंधी धार्मिक गतिविधियां और अच्छी परिवहन सुविधा के द्वारा बिना किसी चिंता के माता के दर्शन कराने के लिए वे विधायक उमेश अग्रवाल को बहुत-बहुत बधाई प्रकट करते हैं। नीलम कहतीं हैं कि उनके लिए यह यात्रा अविस्मरणीय रहेगा और विधायक उमेश अग्रवाल का आभार प्रकट करतीं हुईं कहा कि परिवारजनों के साथ ही अपने कॉलोनियों व नजदीकी लोगों के साथ समूह में माता के दर्शन का सौभाग्य उनकी धार्मिक सोच व इस पर अमल से पूरा हुआ।

विधायक उमेश अग्रवाल के संयोजन में बृहत पैमाने पर माता वैष्णों देवी की यात्रा का सामुहिक आयोजन किया जा रहा है, जो 30 जून तक चलेगा। इस दौरान गुरुग्राम के 25 हजार से ज्यादा लोग माता वैष्णों देवी के दर्शन का पुण्य लाभ उठाएंगे। अभी तक आठ जत्थों में 11 हजार से अधिक श्रद्धालु माता का दर्शन कर वापस लौट चुके हैं। इन जत्थों में बड़ी संख्या ऐसे लोग भी शामिल हैं जिन्होंने पहली बार वैष्णों माता के धाम जाने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है और इनमें बड़ी संख्या 60 वर्ष से अधिक उम्र के श्रद्धालु भी शामिल हैं।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.