अरावली सफारी पार्क

10 हजार एकड में स्थापित  होगा अरावली सफारी पार्क : सीएम खट्टर

एनसीआर गुरुग्राम

हरियाणा को पर्यटन हब के रूप में विकसित किए जाने की दिशा मे महत्वपूर्ण

अरावली सफारी परियोजना के लिए स्थान व भूमि को चिन्हित किया जा चुका

मुख्यमंत्री मनोहर लाल की केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव के साथ बैठक’

गुरुग्राम के 500 बैड क्षमता के ईएसआई अस्पताल परियोजना पर भी हुई चर्चा

श्रमिकहित में स्वास्थ्य विभाग, हरियाणा और ईएसआईसी के मध्य होगा एमओयू

फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम । 
हरियाणा में श्रमिकों को पर्याप्त चिकित्सा सेवा-सुविधाओं के लाभ देने की दिशा में ईएसआई अस्पताल सेवाओं का विस्तार किया जा रहा है। गुरुग्राम में स्थापित होने वाले 500 बैड क्षमता के ईएसआई अस्पताल परियोजना के अतिरिक्त प्रदेश में स्थापित होने वाले अन्य 5 ईएसआई अस्पतालों, नर्सिंग महाविद्यालय व ईएसआई डिस्पेंसरियों के संदर्भ में गहन विचार-विमर्श हुआ। यह जानकारी सीएम मनोहर लाल खट्टर ने बुधवार को नई दिल्ली में केंद्रीय वन, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन व श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव के साथ बैठक के उपरांत मीडिया से बात करते हुए दी। इसी मौके पर य वन, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन व श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने हरियाणा में श्रमिकों की सामान्य सेवाओं-सुविधाओं , श्रमिक कल्याण योजनाओं के सही रूप में कार्यान्वयन के संदर्भ में हरियाणा सरकार की प्रशंसा की।

सीएम मनोहर लाल ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग हरियाणा व कर्मचारी राज्य बीमा निगम के  मध्य एमओयू होगा। श्रमिकों का विभिन्न प्रकार का डाटा भी सांझा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि हरियाणा के श्रमिकों को नागरिक अस्पतालों की स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाए जाने की दिशा में हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग और कर्मचारी राज्य बीमा निगम के मध्य समझौता ज्ञापन (एमओयू) होगा।

सीएम खट्टर ने बताया हरियाणा में 10 हजार एकड भूक्षेत्र में स्थापित की जाने वाली अरावली सफारी पार्क परियोजना को विश्वस्तरीय प्रारूप व पहचान दी जाएगी’ । उन्होंने बताया कि बैठक में अरावली सफारी पार्क को विश्वस्तरीय पहचान व प्रारूप दिए जाने के संदर्भ में विभिन्न संबंधित विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि हरियाणा को पर्यटन हब के रूप में विकसित किए जाने की दिशा में अरावली सफारी पार्क परियोजना एक महत्वपूर्ण घटक होगा। अरावली सफारी परियोजना की स्थापना के लिए स्थान व भूमि को चिन्हित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री ने अरावली क्षेत्र के जीर्णाेद्धार व संरक्षण के लिए हरियाणा सरकार द्वारा किए गए कार्यों के लिए सरकार की सराहना भी की । केंद्रीय मंत्री ने अरावली सफारी के प्रारूप में हरियाणवी आंचलिक सांस्कृतिक पहचान का समावेश किए जाने के लिए भी कहा है। अरावली सफारी को विश्वस्तरीय पहचान व प्रारूप दिए जाने की दिशा में विश्व के विभिन्न देशों में स्थापित कुछ विश्वस्तरीय सफारी पार्कों का दौरा भी किया जाएगा। बैठक में केंद्रीय श्रम मंत्रालय एवं रोजगार मंत्रालय के सचिव सुनील बर्थवाल व हरियाणा के सीएम के प्रधान सचिव  वी उमाशंकर, हरियाणा के पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव एम डी सिन्हा सहित केंद्र व राज्य सरकार ने अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।


यह भी पढ़े – … अब गुरूग्राम विश्व स्तरीय आइकॉनिक सिटी बनेगी: सीएम खट्टर

हमारे इंस्टाग्राम पेज से जुड़े – क्लिक करे।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.