सुधीर सिंगला

सुधीर सिंगला : प्राकृतिक स्रोतों का हर स्तर पर संरक्षण करना जरूरी

गुरुग्राम

-जल, पेड़, पर्यावरण समेत सभी क्षेत्रों में करना होगा जमीनी स्तर पर काम
-जल सरंक्षण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मिशन अमृत सरोवर का विधिवत शुभारंभ
-जिला में 75 तालाब एक साल में विकसित करने की योजना


गुरुग्राम। जल सरंक्षण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मिशन अमृत सरोवर का रविवार को विधिवत रूप से शुभारंभ हो गया। गुरुग्राम के विधायक सुधीर सिंगला ने सोहना खंड के गांव गढ़ी वाजिदपुर से इसकी शुरुआत की। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत लिए गये संकल्पों में से 75 अमृत सरोवर की यह योजना शुरू की गई है।

इस अवसर पर अपने संबोधन में विधायक सुधीर सिंगला ने कहा कि गढ़ी वाजिदपुर में करीब 1.84 एकड़ क्षेत्र पर अमृत सरोवर का निर्माण किया जाएगा। यह अपने आप में बहुत बड़ा काम है। सरकार के हर संभव प्रयास हैं कि पानी की जो कमी हम झेल रहे हैं, उसमें सुधार किया जा सके। उन्होंने कहा कि हमें प्राकृतिक जल स्रोतों को फिर से जिवित करना होगा। यह हमारे और हमारी पीढिय़ों के लिए बहुत जरूरी है। सिर्फ जल स्रोत ही नहीं, बल्कि प्रकृति में सुधार के लिए भी हमें हरियाली और शुद्ध वातावरण के लिए पेड़-पौधे अधिक से अधिक लगाने होंगे। उन्होंने कहा कि अगर हमें किसी कारणवश एक पेड़ को काटना पड़ता है तो उसके बदले 10 पेड़ लगाकर उनका पोषण करना चाहिए, ताकि पर्यावरण संतुलन सही रह सके।

श्री सिंगला ने कहा कि सरकार की यह महत्वपूर्ण योजना है, इसके माध्यम से विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में जल संरक्षण की समस्याओं का समाधान होगा। वहां होने वाली पानी की किल्लत को दूर किया जा सकेगा। कम से कम एक एकड़ भूमि पर ये अमृत सरोवर विकसित होने हैं। इसमें 10 हजार क्यूबिक मीटर जल संग्रहण की क्षमता होगी।  

प्रत्येक अमृत सरोवर कम से कम एक एकड़ भूमि पर विकसित किया जाएगा जिसकी जल संग्रहण की क्षमता लगभग 10 हजार क्यूबिक मीटर होगी। इस अमृत सरोवर मिशन में विकास एवं पंचायत विभाग व हरियाणा पोंड एंड वेस्ट वाटर मैनेजमेंट प्राधिकरण मिलकर काम कर रहे हैं। केंद्र सरकार की ओर से ग्रामीण विकास मंत्रालय, पंचायती राज मंत्रालय, जल शक्ति मंत्रालय, सांस्कृतिक मामलों के मंत्रालय और पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालयों की इसमें भूमिका भी रहेगी। तालाब का जीर्णोद्धार होने के बाद प्रत्येक वर्ष 15 अगस्त के दिन संबंधित गांव के पदमश्री अवॉर्ड विजेता, शहीदों के परिजनों तथा स्वतंत्रता सेनानियों के परिवार के सदस्यों द्वारा वहां राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा। रविवार को इस कार्यक्रम में पूर्व डिप्टी मेयर परमिंदर कटारिया समेत काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।


यह भी पढ़े – भारत के कुल निर्यात में अपेरल्स की हिस्सेदारी 4.4 फीसदी तक पहुंचीः दर्शना विक्रम जरदोश, केन्द्रीय मंत्री

हमारे इंस्टाग्राम पेज से जुड़े – क्लिक करे।

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.