महिला प्रशिक्षु को सिलाई मशीन भेंट करते हुए विशिष्ट अतिथि गण

महिला प्रशिक्षु को सिलाई मशीन भेंट करते हुए विशिष्ट अतिथि गण

तावडू

तावडू, 3 जुलाई (आदर्श) :  जनपद नूंह के अन्तर्गत तावडू उपमंडल के ग्राम बिस्सर अकबरपुर कामधेनु गोधाम अनुसंधान में मासिक यज्ञ एवं प्रवचन का आयोजन किया गया। यज्ञ में जिनका भी जन्मदिन एवं विवाह वर्षगांठ की तिथि की भी वेद मंत्रों द्वारा आहुति दी गई। यज्ञा के उपरान्त मुख्य अतिथि रविदेव गुप्ता अध्यक्ष एकल विद्यालय फाऊंडेशन ऑफ इण्डिया, विशिष्ट अतिथि विजय खुूराना राष्ट्रीय संयोजक राष्ट्रीय गोधन महासंघ वृंदावन, के के अरोड़ा गुरूग्राम, जगमोहन मित्तल उद्योगपति रोहतक,प्रमुख समाज सेवी आदर्श गुप्ता दिल्ली आर के अग्रवाल नरेश गुप्ता व अनुपम गुप्ता ने हिस्सा लिया। मुख्य अतिथि रविदेव गुप्ता ने कार्यक्रम को सम्बोधित काते हुए कहा कि आज हम जिस पवित्र वातावरण में बैठे हैं जहां चारों और गऊओं के रम्भाने की आवाजे आ रही हों ऐसा वातावरण मुझ जैसे शहर में रहने वालों को कम ही मिलता है। उन्होंने कहा कि हम ऐसी संस्कृति के वाहक हैं जिस के मार्ग दर्शक भगवान श्री कृष्ण एवं भगवान री राम हुए हैं। गौ माता को गौमाता इस लिए कहा जाता है कि जो गुण एक मॉ के दूध में होते हैं वही सारे गुण देशी गोमाता के दूध में होते हैं। रविदेव गुप्ता ने कहा कि संसार भर में गाय ही एक मात्र ऐसा प्राणी है जिस का मलमूत्र भी पवित्र एवं गुणकारी माना गया है यहां तक कि मानव स्वयं भी अपने मलमूत्र से घृणा करता है। उन्होंने कहा कि कामधेनु गोधाम एक गोशाला नहीं अपितू एक प्रयोगशाला है जहां शरीर को निरोगी रखने एवं बिमारियों के उपचार के लिए पंचगव्य ये उत्पाद बनाने के उपाय किए जा रहे हैं एवं अन्य उपयोगी वस्तुएं बनाई जा रही हैं। राष्ट्रीय संयोजक विजय खुराना ने बताया कि  10 वर्ष पूर्व यूपीए सरकासर में लुधियाना कृषि विद्यालय से एक प्रस्ताव आया था कि सभी देशी गायों को विदेश में एक्सपोर्ट किया जाए क्योंकि ये कम दूध देती हैं और आधी उम्र ही दूध देती हैं। उन्होंने बताया कि उक्त प्रस्ताव प्लानिंग कमीशन से पास भी हो गया जैसे ही हमें सूचना मिली तुरंत ही शिवसेना के सदस्यों से सम्पर्क कर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से भंट की जहां प्लानिंग कमीशन ने क्लेरिकल गल्ती बता कर क्षमा याचना कर प्रस्ताव रद्द कर दिया। उन्होंने कहा कि आज अमेरिका ने 4 पेटैंट देशी गाय के गोमूत्र के करा रखे हैं। कामधेनं गोधम एवं अनुसंधान के संरक्षक एवं पूर्व आइएएस अधिकारी एस पी गुप्ता एवं अध्यक्षा शशी गुप्ता ने अइाए हुए अतिथियों को आभार व्यक्त करते हुए स्वागत किया तथ इस अवसर पर  महाबीर इन्टर नैशनल की ओर से कामधेनु गोधाम में चल रहे सिलाई सैंटर पर सीखने वाली महिलाओं गीता,मीनू,रिंकी,बीरबती,सोमवती,अंजू,मौसम एवं बबीता आदि को सिलाई मशीन भी उपलब्ध कराई गई।


यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश का प्रमुख चमत्कारी मंदिर जहां 2 हजार वर्षों से जल रही अखंड ज्योति


 

शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.